65 लाख खर्च करके भी नहीं मिली नौकरी, शरू किया खुद का बिज़नेस

 65 लाख खर्च करके भी नहीं मिली नौकरी, शरू किया खुद का बिज़नेस Hindi Word #02

पढ़ाई करने के बाद नौकरी करने में लग जाते हैं अगर नौकरी मिले तो सही है लेकिन अगर ना मिले तो हम काफी निराश और हताश हो जाते हैं 

आज के इस आर्टिकल में हम एक ऐसी लड़की की बात करेंगे सौम्या गुप्ता अपने पायलट की नौकरी लेने में 65 लाख का खर्च किया फिर भी नौकरी ना मिली फिर उसने कुछ नया बिजनेस शुरू किया और आज वह कहीं ज्यादा प्रॉफिट कमा रही है



एक कहानी है कानपुर की सौम्या गुप्ता ने ₹6500000 खर्च करके अपने अमेरिका में पायलट की ट्रेनिंग पूरी की थी लेकिन कई लाख कोशिश करने के बाद नौकरी ना मिली नौकरी ना मिलने पर कहीं लोग हताश हो जाते हैं लेकिन  सौम्या गुप्ता ने जो कारनामा कर दिखाया है वह कोई दूसरा शायद ही कर पाए

पायलट की नौकरी ना मिलने के बाद उसने ₹5000 की महीने की पगार में जिम रिसेप्शन की नौकरी की थी और इसके बाद कॉल सेंटर में भी उसने काम किया था इस दौरान इसकी मुलाकात एक रोबोट्रो कवाली  और गॉटियर अच्छे से ब्रांडेड कपड़ों का इंपोर्ट एक्सपोर्ट काम करती एक महिला के साथ हुई

उसके पास चाहिए पीस ड्रेस उधार लेकर अपने घर में ही मित्रों के लिए सेल  लगाया और सिर्फ 1 घंटे में उसने 100 का प्रॉफिट मार्जिन भी कमा लिया 



सौम्या गुप्ता ने पहले कई जिम रिसेपिस्ट  और कॉल सेंटर में काम किया था और एक दिन एक आईडिया आया तब उधार पैसे लेकर उसने कपड़ो का बिजनेस शुरू किया आज वह अपनी कंपनी की मालिक है और इसके अंदर 35 कर्मचारी भी काम कर रहे हैं उन्हें डिजाइन किए गए ड्रेस अंदाज से 10000 से भी ज्यादा ड्रेस ओं की बिक्री आज होती है

साथ-साथ उसने ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर भी कपड़ों की बिक्री की शुरुआत की थी आज के समय में कंपनी का काम अमेरिका से हो रहा है और कनाडा और यूरोप में भी उसने अपना बिजनेस स्टार्ट किया

इस महामारी के चलते उसने कई सारे मास्क बनाने का काम किया है और उसको एक्सपोर्ट भी किया है

आप यह एक मुझ पर स्टोरी है कई लोग नौकरी ना मिलने से हार जाते हैं दुखी हो जाते हैं लेकिन हमें कुछ ऐसा करना चाहिए की हम अपने दम पर खुद ही खड़े हो जाए और हम अपने खुद के मालिक बन सके जैसे कानपुर की सौम्या गुप्ता ने कर दिखाया है

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां